20 Interesting Facts about 'Lal Bahadur Shastri' in Hindi | 'Lal Bahadur Shastri' ke 20 Rochak Tathya

Saturday, January 21, 2017

लाल बहादुर शास्त्री के 20 रोचक तथ्य

1. लाल बहादुर शास्त्री जी का जन्म 2 अक्टूबर 1904 को उत्तर प्रदेश के मुगलसराय में हुआ था।
2. उनके पिता जी का नाम शारदा प्रसाद श्रीवास्तव और माता जी का नाम रामदुलारी देवी था।
3. इनके पिता इनके बचपन में ही स्‍वर्गवासी हो गये थे तो इनकी माता इन्‍हेंं लेकर इनके नाना के यहाँ चली गयींं। पढ़ने में कुशाग्र बुद्धि होने के कारण उन्होंने नाना-नानी के यहाँ रहकर प्राथमिक शिक्षा पूरी की।
4. आर्थिक तंगी के कारण वो नदी तैरकर स्कूल में पढ़ाई करने जाते थे।
5. काशी विद्यापीठ से 'शास्त्री' की उपाधि मिलते ही जन्म से चले आ रहे जातिसूचक शब्द श्रीवास्तव को हटा कर उन्होंने अपने नाम के आगे हमेशा के लिए 'शास्त्री' लगा लिया।
6. 16 मार्च 1928 को उनकी शादी मिर्जापुर की ललिता देवी से हुई थी और उन्होंने दहेज के तौर पर एक चरखा और कुछ गज कपड़ा लिया था।
7. शास्त्री जी ने स्वतंत्रता आंदोलन में गांधीवादी विचारधारा का अनुसरण करते हुए देश की सेवा की और आजादी के बाद भी अपनी निष्ठा और सच्चाई में कमी नहीं आने दी।
8. शास्‍त्री जी गांधी जी के साथ 'असहयोग आंदोलन' में कार्यरत रहे और कुछ समय के लिए जेल भी गए।
9. भारत की स्वतंत्रता के पश्चात शास्त्रीजी को उत्तर प्रदेश के संसदीय सचिव के रुप में नियुक्त किया गया था।
10. भीड़ को नियंत्रित करने के लिए लाठी की जगह पानी की बौछार का प्रयोग उन्होंने ही आरंभ किया था।
11. बहुत कम लोग ये बात जानते हैं कि परिवहन में जो आप महिलाओं के लिए आरक्षित सीट देखते हैं, उसकी शुरुआत भी लाल बहादुर शास्त्री ने की थी।
12. शास्त्री जी ने 9 जून 1964 को भारत के प्रधान मंत्री का पद भार ग्रहण किया।
13. उन्होंने आजाद भारत के दूसरे प्रधानमंत्री के रूप में देश की बागडोर संभाली।
14. 11 जनवरी, 1966 में ताशकंद में उनका निधन हो गया था।
15. भगत सिंह के जीवन पर बनी फ़िल्म ‘शहीद’ देखकर तत्कालीन प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री रो पड़े थे।
16. शास्त्रीजी ने देशवासियों को 'जय जवान, जय किसान' का नारा दिया।
17. आज राजनीति में जहां हर तरफ भ्रष्टाचार का बोलबाला है वहीं शास्त्री जी एक ऐसे उदाहरण थे जो बेहद सादगी पसंद और ईमानदार व्यक्तित्व के स्वामी थे।
18. उनके उत्कृष्ट कार्यों के लिए उन्हें मरणोपरान्त वर्ष 1966 में भारत के सर्वोच्च नागरिक सम्मान 'भारत रत्न' से सम्मानित किया गया।
19. लाल बहादुर शास्त्री जी की याद में 'शास्त्री जयंती' प्रति वर्ष भारतवर्ष में 2 अक्टूबर को मनाई जाती है।
20. भारतीय इतिहास में सादगी और ईमानदारी के उदाहरण के रूप में लाल बहादुर शास्त्री का नाम सदैव याद किया जायेगा।

20 Interesting Facts about 'Lal Bahadur Shastri' in Hindi | 'Lal Bahadur Shastri' ke 20 Rochak TathyaSocialTwist Tell-a-Friend

0 comments:

Post a Comment