Search for Hindi Essays & Paragraphs

Short Essay on 'Diwali' or 'Deepawali' in Hindi | 'Diwali' par Nibandh (150 Words)

दीवाली

'दीवाली' हिन्दुओं का प्रसिद्ध त्यौहार है। दीवाली को 'दीपावली' भी कहते हैं। 'दीपावली' का अर्थ होता है - 'दीपों की माला या कड़ी'।

दीवाली प्रकाश का त्यौहार है। यह हिन्दू कैलेंडर के अनुसार आश्विन माह में मनाया जाता है। दीवाली में लगभग सभी घर एवं रास्ते दीपक एवं प्रकाश से रोशन किये जाते हैं।

दीवाली का त्यौहार मनाने का प्रमुख कारण है कि इस दिन भगवान् राम, अपनी पत्नी सीता एवं अपने भाई लक्ष्मण के साथ 14 वर्ष का वनवास बिताकर अयोध्या लौटे थे। उनके स्वागत में अयोध्यावासियों ने तेल के दिए जलाकर प्रकाशोत्सव मनाया था। इसी कारण इसे 'प्रकाश के त्यौहार' के रूप में मनाते हैं।

दीवाली के दिन सभी लोग ख़ुशी मनाते हैं एवं एक-दूसरे को बधाईयाँ देते हैं। बच्चे खिलौने एवं पटाखे खरीदते हैं। दुकानों एवं मकानों की सफाई की जाती है एवं रंग पुताई इत्यादि की जाती है। रात्रि में लोग धन की देवी 'लक्ष्मी' की पूजा करते हैं।
 

Short Essay on 'Diwali' or 'Deepawali' in Hindi | 'Diwali' par Nibandh (150 Words)SocialTwist Tell-a-Friend

21 comments:

Anonymous,  July 6, 2013 at 1:05 PM  

Do shabdo meh accha nibandh

Anonymous,  October 27, 2013 at 4:01 PM  

thxxxxxx....

Anonymous,  October 27, 2013 at 4:12 PM  

wow............

Anonymous,  November 2, 2013 at 8:15 AM  

thank you

Anonymous,  January 20, 2014 at 9:37 PM  

Nice....!!

Anonymous,  March 14, 2014 at 4:26 PM  

got it in 3days due so thnks but can you shorten it

AYUSH SINGH May 20, 2014 at 1:56 PM  

Thanks now i haven't have any problem in my project work

AYUSH SINGH May 20, 2014 at 2:18 PM  

thanks now i don't have to worry about my project work

Anonymous,  August 27, 2014 at 8:48 PM  

Thanks, I always search 4 Hindi essay on this site

Heet Patel September 2, 2014 at 9:39 PM  

Thanks, to this site for this nice hindi essay i was searching for them very much once again thank you this site...

s.chanu begam,  September 8, 2014 at 8:56 PM  

acha nibandh hai aur bachom jaldhi samaj jathe hai .......danyavadh

s.chanubegam m.a (hindhi),  September 8, 2014 at 8:57 PM  

bahuth acha nibandh hai

Post a Comment